आशुतोष विश्वकर्मा (वेबसाइट/पोर्टल के स्वामी, संचालक) मो.नं. 8839215630, ई-मेल : branding.executive03234@gmail.com
छोटू यादव (संपादक) मो.नं. 8103624121, ई-मेल : contact@centralnews-india.com

संपादकीय कार्यालय का पता : सेंट्रल न्यूज़ इंडिया - देवांगन बड़ी, सत्यम विहार कॉलोनी, रायपुरा, रायपुर, छत्तीसगढ़, पिन कोड 492013

न्यूज़ वेबपोर्टल पंजीयन क्रमांक : CG14D0018162

 

Breaking

अपनी भाषा चुने

POPUP ADD

सी एन आई न्यूज़

सी एन आई न्यूज़ रिपोर्टर/ जिला ब्यूरो/ संवाददाता नियुक्ति कर रहा है - छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेशओडिशा, झारखण्ड, बिहार, महाराष्ट्राबंगाल, पंजाब, गुजरात, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटका, हिमाचल प्रदेश, वेस्ट बंगाल, एन सी आर दिल्ली, कोलकत्ता, राजस्थान, केरला, तमिलनाडु - इन राज्यों में - क्या आप सी एन आई न्यूज़ के साथ जुड़के कार्य करना चाहते होसी एन आई न्यूज़ (सेंट्रल न्यूज़ इंडिया) से जुड़ने के लिए हमसे संपर्क करे : हितेश मानिकपुरी - मो. नं. : 9516754504 ◘ मोहम्मद अज़हर हनफ़ी - मो. नं. : 7869203309 ◘ शक्तिधर दीवान - मो. नं. : 9753021021 ◘ आशुतोष विश्वकर्मा - मो. नं. : 8839215630 ◘ सोना दीवान - मो. नं. : 9827138395 ◘ शिकायत के लिए क्लिक करें - Click here ◘ फेसबुक  : cninews ◘ रजिस्ट्रेशन नं. : • Reg. No.: EN-ANMA/CG391732EC • Reg. No.: CG14D0018162 

Tuesday, May 17, 2022

नरवा विकास योजना के तहत कवर्धा वन मंडल में जल संरक्षण के लिए किया जा रहा कार्य नरवा, नालों को पुर्नजीवित करने के लिए लूज बोल्डर चेकडेम, ब्रशवुड चेकडेम, मिट्टी के छोटे-छोटे बंधान, 30-40 संरचना तथा परकुलेशन टेंक, वाटरहोल का किया जा रहा निर्माण बुद्व पूर्णिमा के अवसर पर कवर्धा वनमंडल में नरवा वाक् का हुआ आयोजन


नरवा विकास योजना के तहत कवर्धा वन मंडल में जल संरक्षण के लिए किया जा रहा कार्य

नरवा, नालों को पुर्नजीवित करने के लिए लूज बोल्डर चेकडेम, ब्रशवुड चेकडेम, मिट्टी के छोटे-छोटे बंधान, 30-40 संरचना तथा परकुलेशन टेंक, वाटरहोल का किया जा रहा निर्माण

बुद्व पूर्णिमा के अवसर पर कवर्धा वनमंडल में नरवा वाक् का हुआ आयोजन

CNI NEWS कवर्धा छत्तीसगढ़ से अनवर खान की रिपोर्ट*

कवर्धा, 17 मई 2022। राज्य शासन की जन कल्याणकारी योजनाओं के तहत् अति महत्वाकांक्षी योजना अंतर्गत नरवा विकास योजना एक महत्वपूर्ण योजना है, जिसके अंतर्गत पूरे छत्तीसगढ़ के नरवाओं के जलग्रहण क्षेत्र का उपचार किया जा रहा है जिससे पूरे क्षेत्र में वाटर लेबल की पर्याप्त उपलब्धता के साथ वहां के आसपास के लोगों के लिए पानी की उपलब्धता तथा वनक्षेत्र में पाये जाने वाले विभिन्न प्रकार के वन्यजीवों को भी पानी की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जा सके।


 इसी तारतम्य में कवर्धा वनमंडल अंतर्गत छत्तीसगढ़ शासन के वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग मंत्री श्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार वर्ष 2021-22 के कैम्पा ए.पी.ओ. अनुसार 21 नालों में भू-जल संरक्षण कार्य का उपचार किया जा रहा है।


मुख्य कार्यपालन अधिकारी (कैम्पा) रायपुर श्री व्ही.श्रीनिवास राव एवं मुख्य वन संरक्षक, दुर्ग वृत्त दुर्ग श्री बी.पी.सिंह ने कवर्धा वनमंडल में नरवा विकास योजना के तहत किए जा रहे विभिन्न कार्यों का गत दिनों निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान वनमंडल के सभी स्तर के अधिकारी (वनमंडलाधिकारी से वनरक्षक तक) उपस्थित रहे। निरीक्षण के दौरान उन्होंने अधिकारी एवं कर्मचारियों को भू-जल संरक्षण कार्य के तकनीकी पहलुओं पर मार्गदर्शन दिया। कवर्धा वनमंडल कवर्धा के वनक्षेत्रों के 21 नालों पर भू-जल संरक्षण कार्य के तहत् नरवा विकास परियोजना लगातार संचालित है जिसमें नरवा, नालों को पुर्नजीवित करने के लिए लूज बोल्डर चेकडेम, ब्रशवुड चेकडेम, मिट्टी के छोटे-छोटे बंधान, 30-40 संरचना तथा परकुलेशन टेंक, वाटरहोल का निर्माण किया जा रहा है।

वन मंडलाधिकारी श्री चूड़ामणि सिंह ने बताया कि 16 मई 2022 बुद्व पूर्णिमा के अवसर पर कवर्धा वनमंडल में नरवा वाक् का आयोजन किया गया। जिसमें वनमंडल अंतर्गत नरवा विकास योजना के तहत् संचालित भू-जल संरक्षण कार्य को क्षेत्र के स्थानीय जन प्रतिनिधियों के साथ-साथ वनमंडल के सभी स्तर के अधिकारी, कर्मचारियों के द्वारा नरवा पर पैदल चलकर विभिन्न प्रकार के निर्मित संरचनाओं से अवगत कराया गया तथा नरवा विकास से मनुष्य एवं वन्यप्राणियों के समन्वित लाभ के संबंध में चर्चा की गई। नरवा वाक् के अंतर्गत वनमंडल के सभी परिक्षेत्रों यथा-वन परिक्षेत्र-कवर्धा, तरेगांव, सहसपुर लोहारा, रेंगाखार, खारा, पंडरिया पूर्व, पंडरिया पश्चिम एवं भोरमदेव अभ्यारण्य कवर्धा, चिल्फी में जन जागरूकता जगाने के लिए विभिन्न नरवा, नाले पर प्रातः 6 बजे से 11 बजे तक ग्रामीणों एवं क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के साथ नाला पदयात्रा का आयोजन किया गया। जिसमें जन प्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों को कराए गए कार्यो का वनक्षेत्र में भ्रमण कराकर अवलोकन कराया गया। ग्रामीणों को कार्य की महत्ता के बारे में विस्तृत रूप से अवगत कराया गया साथ ही यह दिखाया गया कि इस कार्य में नरवा का अवश्य पुनरोद्धार होगा और आसपास के गांवो के तालाब, कुंए, नालों में पानी का जलस्तर उपर उठेगा। इस योजना के तहत ग्रामीणों को नरवा विकास योजनांतर्गत मजदूरी मूलक कार्य उपलब्ध कराया जा रहा है। कवर्धा वनमंडल अंतर्गत प्रतिमाह (60-70 हजार) साठ से सत्तर हजार मानव दिवस का रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Hz Add

Post Top Ad