Breaking

अपनी भाषा चुने

POPUP ADD

सी एन आई न्यूज़

सी एन आई न्यूज़ रिपोर्टर/ जिला ब्यूरो/ संवाददाता नियुक्ति कर रहा है - छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेशओडिशा, झारखण्ड, बिहार, महाराष्ट्राबंगाल, पंजाब, गुजरात, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटका, हिमाचल प्रदेश, वेस्ट बंगाल, एन सी आर दिल्ली, कोलकत्ता, राजस्थान, केरला, तमिलनाडु - इन राज्यों में - क्या आप सी एन आई न्यूज़ के साथ जुड़के कार्य करना चाहते होसी एन आई न्यूज़ (सेंट्रल न्यूज़ इंडिया) से जुड़ने के लिए हमसे संपर्क करे : हितेश मानिकपुरी - मो. नं. : 9516754504 ◘ मोहम्मद अज़हर हनफ़ी - मो. नं. : 7869203309 ◘ शक्तिधर दीवान - मो. नं. : 9753021021 ◘ आशुतोष विश्वकर्मा - मो. नं. : 8839215630 ◘ सोना दीवान - मो. नं. : 9827138395 ◘ शिकायत के लिए क्लिक करें - Click here ◘ फेसबुक  : cninews ◘ रजिस्ट्रेशन नं. : • Reg. No.: EN-ANMA/CG391732EC • Reg. No.: CG14D0018162 

Tuesday, January 24, 2023

सब्जी की खेती कर महिलाएं प्रतिमाह 15 हजार तक कर रही हैं आय अर्जित

 मुंगेली से सुखबली खरे के साथ कीर्तिमान साहू की रिपोर्ट


सब्जी की खेती कर महिलाएं प्रतिमाह 15 हजार तक कर रही हैं आय अर्जित



मुंगेली 24 जनवरी 2023// राज्य शाासन की महत्वाकांक्षी सुराजी गांव योजना के तहत सामुदायिक बाड़ी विकास के कार्य से जुड़कर जिले के स्व सहायता समूह की महिलाएं आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हो रही हैं। पथरिया विकासखण्ड के ग्राम लोहदा के जय महामाया महिला स्व सहायता समूह की महिलाएं गौठान में सामुदायिक बाड़ी विकास के कार्य से प्रतिमाह 15 हजार रूपए तक आमदनी अर्जित कर रही हैं।


महिलाओं द्वारा गौठान में लगभग 02 एकड़ भूमि में धनिया, बैगन, मिर्च, जिमीकंद और हल्दी लगाया गया है। जिससे उन्हें अब अच्छी खासी आय प्राप्त होने लगी है। स्व सहायता समूह की महिलाओं ने बताया कि शासन द्वारा महिलाओं के आर्थिक उत्थान के लिए चलाई जा रही योजना का लाभ उन्हें मिलने लगा है। अब उन्हें जरूरी घरेलू सामान खरीदने के लिए किसी अन्य पर निर्भर नहीं रहना पड़ता। उद्यान विभाग के सहायक संचालक ने बताया कि कलेक्टर श्री राहुल देव के मागदर्शन में ग्राम लोहदा के गौठान में लगभग 02 एकड़ भूमि में बाड़ी विकास का कार्य किया गया है। गौठान प्रबंधन समिति ने फसलों को सुरक्षित रखने के लिए फैंसिंग कराई है तथा बाड़ी में पानी की व्यवस्था भी किया गया है। उन्होंने बताया कि उद्यान विभाग द्वारा महिलाओं को सब्जी उत्पादन हेतु आवश्यक मागदर्शन भी दिया जाता है। उद्यानिकी विभाग की तकनीकी सहयोग के कारण सामुदायिक बाड़ी विकास योजना से जुड़कर स्वसहायता समूह की महिलाएं अपने सपने को साकार कर रही हैं।

No comments:

Post a Comment

Please do not enter any spam link in the comment box.

Hz Add

Post Top Ad